Hindi Shayari

Hurt Shayari in Hindi ! बेस्ट हिंदी हर्ट शायरी | Latest Zakhm Shayari

Hurt Shayari

हर्ट शायरी - Hurt Shayari in Hindi
ज़िन्दगी में कुछ तकलीफो का हल नहीं,
तस्वीर में कोई और है,
तक़दीर में कोई और,
मोहब्बत मुकम्मल हुई नहीं,
और ज़िन्दगी युही गुज़र गयी.
Zindagi mein kuch Takleefo ka hal nhi,
Tasveer me koi aur hai,
Taqdeer me koi aur,
Mohabbat mukammal hui nahi,
Aur zindagi yuhi guzar gyi.
Hurt Shayari

हर्ट शायरी - Hurt Shayari in Hindi
जिन्होंने जानना उनसे कैसे दग़ा करे,
ता उम्र वफ़ा देखै, अब कैसे बेवफाई करे,
मोहब्बत किसी और से है,
अब यह उनसे कैसे बयां करे…
Jinhone janna unse kese daga kare,
Ta umar wafa dekhai, ab kese bewafai kare,
Mohabbat kisi aur se hai,
ab yeh unse kese bayan kare…
Hurt Shayari

हर्ट शायरी - Hurt Shayari in Hindi
तमन्ना थी उसे मुकम्मल
जहाँ की खुशियाँ देने की,
पर दे तोह हम उसे प्यार भी नहीं पाए,
दगा करके वह गये और,
दगाबाज़ भी हम ही कहलाये.
Tamanna thi use muqammal
jahan ki khushiya dene ki,
Pr de toh hum use Pyaar bhi nahi paye,
Daga karke woh gye aur,
dagabaaz bhi hum hi kehlaye.
Hurt Shayari

हर्ट शायरी - Hurt Shayari in Hindi
इतना रुलाया किसी ने कि हम मुस्कराना भूल गये,
इतना दिल टुटा हमारा कि हम दिल लगाना भूल गए,
दुनिया ने मिलर हमारे लिए साजिशें रची इतनी,
की हम रिश्तों के नाम पर किसी को अपना बनाना भूल गए.
Itna Rulaya Kisi Ne Ki Hum Muskarana Bhul Gye,
Itna Dil Tuta Hamara Ki Hum Dil Lagana Bhul Gye,
Duniya Ne Miller Hamare Liye Sajishey Rachi Itni,
Ki Hum Rishton Ke Naam Pr Kisi Ko Apna Banana Bhul Gye.
Previous page 1 2 3 4 5 6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *