Hindi Shayari

Mohabbat Shayari ! मोहब्बत की शायरी इन हिंदी ! मोहब्बत की शायरी

Mohabbat Shayari in Hindi : “मोहब्बत” यह जरूर सुना ही होगा! नफरत ऐसी चीज है जिसे हम खुलकर करते हैं और मोहब्बत एक ऐसी चीज है जिसे हम छुपाते फिरते रहते हैं! किसी से मोहब्बत करने के लिए उसकी इजाजत नहीं ली जाती वह तो ऐसे ही बस हो जाती है। उस समय दिल में उनकी यादें और जुबा पर बस उनका ही नाम होता है। हम जिनको पसंद करते हैं या प्यार करते हैं उनकी हर आदत जैसे कि बातचीत का तरीका हसना सब कुछ हमें पसंद आने लगता है!


कई बार हम बातों बातों में उन के लिए Shayari on Mohabbat का इस्तेमाल करते हैं इसीलिए आज हम आप लोगों के लिये Pyar Mohabbat ki Shayari और मोहब्बत शायरी का बेहतरीन और सबसे अलग कलेक्शन लेकर आए हैं जिसे आप अपने प्यारे लोगो के साथ शेयर कर सकते हैं। आशा करता हूं आपको यह कलेक्शन जरूर पसंद आएगा अगर आपको यह Mohabbat Wali Shayari पसंद आए तो अपने प्रेमी प्रेमिका के साथ जरूर शेयर करिएगा धन्यवाद! ये अब तक का बेस्ट कलेक्शन है सिर्फ आपके लिए, आप अपनी सारी प्यार भरी बाते अपनी गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड एंड अपने हार्ट टचिंग पर्सन को भेज सकते है व्हाट्सप्प या फेसबुक पर, आशा करता हूँ आपको ये पसद आएगी। Must Check Out आई लव यू ! I Love You Shayari.

Mohabbat Shayari in Hindi

Mohabbat Shayari in Hindi

ये साँसे मेरी, जिन्दगी मेरी और Mohabbat भी मेरी,
मगर हर चीज को मुकम्मल करने के लिए
Mujhe सिर्फ और सिर्फ जरुरत है तेरी।

कभी सीने से लगा कर मेरे दिल की Dhadkan तो सुनो,
ये हर पल सिर्फ तुम्हारा ही नाम लेती है।

एहसास बनकर दिल में बसे हो,
एक तुम ही तो हो जो निगाहों को जचे हो..!!

हम भी मरीज़ हैं तेरी मोहब्बत के..!!
किसी रोज़ हमारी भी तो दवा कर..!!

बहुत शिकायतें आती है तुम्हारे घर से,
यूँ सोते हुए मेरा नाम ना लिया करो..!!

इतना खूबसूरत था तेरा ख्वाब में आना,
हम उठने के बाद भी सोते रहे..!!

Labbo se matlab nhi muje,
Matha chumne ki izazat chahiye..!!

Janta hu thak chuke ho,
Smbhal luga yekeen rakho..!!

Na Sath Hai Kisi Ka Na Sahara Hai Koi,
Na Ham Hain Kisi Ke Na Hmara Hai Koi..!!

Pyar Mohabbat ki Shayari

Pyar Mohabbat ki Shayari

ये मत पुछा करो की मैं तुमसे कितना Pyaar करता हूँ,
बस इतना जान लो कि में बस तुमसे Pyaar करता हूँ
और बेपनाह प्यार करता हूँ।

ये साँसे मेरी, जिन्दगी मेरी और Mohabbat भी मेरी,
मगर हर चीज को मुकम्मल करने के लिए
Mujhe सिर्फ और सिर्फ जरुरत है तेरी।

खौफ़ ये कि कोई ज़ख्म न देखे दिल का
हसरत ये कि काश कोई देखने वाला होता..!!

बांध दो कोई तबीज मुझे,
ये मोहब्बत मेरे पीछे पड़ी है..!!

मुकम्मल तो बस कहानियां होती है,
मुहब्बत तो हमेशा अधूरी रह जाती है..!!

माथा चूम कर तेरा गले लगाना,
कितना आसान है ऐसे अरमान सजाना..!!

कभी तो रिहा कर दो अपने ख्यालो से मुझको,
Teacher कहने लगी है ध्यान कहाँ है तुम्हारा..!!

मेरे बाबू ने खाना खाया से लेकर,
खाने में क्या बनाऊँ तक का सफर ही इश्क हैं..!!

इश्क़ में हमने वही किया जो फूल करते हैं बहारों में
खामोशी से खिले महके और फिर बिखर गए..!!

इश्क प्यार मोहब्बत की शायरी

प्यार मोहब्बत की शायरी

जब आप महसूस करते हैं कि आप किसी
और के साथ अपना पूरा Jeevan व्यतीत करना चाहते हैं,
तो आप चाहते हैं कि आपका शेष Jeevan जल्द से जल्द शुरू हो सके।

दिल तो हर किसी के पास होता है,
लेकिन सब Dilwale नही होते।

तुम्हे दिल से Pyaar करना और तुम्हे
बाहों में लेना दोनों अब मेरे शौक है।

उतर के देख मेरी चाहत की गहराई मै,
सोचना मेरे बारे मै रात की तन्हाई में,
अगर हो जाए मेरी चाहत का एहसास तुम्हे,
तो मिलेगा मेरा अक्स तुम्हे अपनी ही परछाई में।

कोई मुक़दमा ही कर दो हमारे सनम पर,
कम से कम हर पेशी पर दीदार तो हो जायेगा।

फूँक डालूँगा किसी रोज़ ये दिल की दुनिया,
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि जला भी न सकूँ।

मैंने तो देखा था बस एक नजर के खातिर
क्या खबर थी की रग रग में समां जाओगे तुम।

गज़ब की बेरुख़ी छाई हे तेरे जाने के बाद,
अब तो सेल्फ़ी लेते वक़्त भी मुस्कुरा नही पाते।

चाहे पूछ लो सवेरे से या शाम से
ये दिल धड़कता है बस तेरे नाम से।

बहुत थे मेरे भी इस दुनिया मेँ अपने,
फिर हुआ इश्क और हम लावारिस हो गए।

Best Shayari on Mohabbat

Shayari on Mohabbat

क्या बताऊँ तुम्हे ऐ सनम की तुम्हारी बातें कितनी Mithi हैं,
सामने बैठ के फीकी चाय पीते रहते हैं।

लफ़्ज़ों से कहाँ लिखी जाती है ये बेचैनियां Mohabbat की,
मैंने तो हर बार तुम्हे दिल की गहराईयो से Pukara है।

वो आये थे मेरी कब्र पर मन ही मन में हॅस दिये.
जो कुछ दिये में तेल था सिर पर मल के चल दिये..!!

बस कुछ दिन रुक जाओ पगली,
फ़िर हमारा भी नाम होगा राधा कृष्ण की तरह।

ना दिल की चली ना आँखों की,
हम तो दीवाने बस तेरी मुस्कान के हो गए।

उन्होंने वक़्त समझकर गुज़ार दिया हमको
और हम उनको ज़िन्दगी समझकर आज भी जी रहे हैं।

जो दिल के आईने में हो वही प्यार के काबिल है
वरना दीवार के काबिल तो हर तस्वीर होती है।

मजा चख लेने दो उसे गेरो की मोहबत का भी,
इतनी चाहत के बाद जो मेरा न हुआ वो ओरो का क्या होगा।

तजुर्बा एक ही काफी था बयान करने के लिए,
मैंने देखा ही नहीं इश्क़ दोबारा करके।

सिर्फ मूर्ख लोग ही प्रेम में पड़ते हैं
और उन लोगों में से एक मैं हूँ।

रुलाने वाले वही है जो कहते थे
हँसते हुए बहुत अच्छे लगते हो।

Meri Mohabbat Shayari

Meri Mohabbat Shayari

हमेशा उस इंसान के करीब रहो जो तुम्हे khush रखे,
लेकिन उस इंसान के और भी करीब रहो
जो तुम्हारे बगैर khush न रह पाए।

तड़पता भी हैं, धड़कता भी हैं मेरा दिल
तेरे होते हुए भी क्यों हैं ज़िन्दगी में इतनी मुश्किल!

काश वो समझते इस दिल की तड़प को
तो यूँ हमें रुस्वा न किया होता उनकी ये बेरुखी भी मंज़ूर थी हमें
बस एक बार हमें समझ लिया होता!

प्यार का रिश्ता भी कितना अजीब होता है
मिल जाये तो बातें लंबी और बिछड़ जायें तो यादें लंबी।

कहाँ मुमकिन था मैं दिल से तेरी यादें मिटा देता,
भला कैसे मैं जीता फिर अगर तुझको भुला देता।

बदल जाती है ज़िंदगी की हक़ीक़त,
जब तुम मुस्कुराकर कहते हो तुम बहुत प्यारे हो।

तस्वीर बना कर तेरी आस्मां पे टांग आया हूँ
और लोग पूछते हैं आज चाँद इतना बेदाग़ कैसे है ।

हुई मुलाक़ात किसी राह पर उनसे
अब खोजता हू हर राह पर उनको।

मुझे ख़ुशी इस वजह से नहीं की तुम खुश हो,
ख़ुशी तो इस बात की है की ये दुआएं मेरी है।

यूँ तो तमन्ना दिल में ना थी लेकिन,
ना जाने तुझे देखकर क्यों आशिक बन बैठे।

अदा से देख लो जाता रहे गिला दिल का,
बस इक निगाह पे ठहरा है फ़ैसला दिल का।

मोहब्बत शायरी इन हिंदी

मोहब्बत शायरी इन हिंदी

तड़प के जब मेरे इश्क़ में तू रोना चाहेगी है
मेरी याद तो आएगी मगर ऐ बेवफ़ा तू मुझे न पायेगी..!!

एक दिन मेरी तरह वो भी तड़पेगी रोयेगी
तस्वीर मेरी सीने से लगाकर एक दिन वो रौशनी को भी
तरसेगी जो जश्न मना रही है मेरा घर जलाकर..!!

अब इस जिन्दगी को थोड़ा सुकुन चाहिए,
मतलब मुझे तू और सिर्फ तू चाहिए।

Mohabbat Kabhi Bhi Mar NHi Sakti
Mohabbat To Sirf Maar Dete Hai.

अगर तुम न होते तो ग़ज़ल कौन कहता
तुम्हारे चहरे को कमल कौन कहता,
यह तो करिश्मा है मोहब्बत का,
वरना पत्थर को ताज महल कौन कहता।

मुलाकातें नही मुमकिन इतना तो एहसास है मुझको
पर तुम्हे मै याद करती हूँ तुम इतना याद रख लेना..!!

Shaq To Tha Mohabbat Me Nuksaan Hoga,
Par Sara Hmara Hoga Ye Maaloom Naa Tha.

Dil Dukhya Karo Izazat Hai,
Bhool Jane Ki Baat Mat Karna.

Pehli Mohabbat Shayari Hindi

Pehli Mohabbat Shayari

बेसब्र आंखों की तड़प और भी बढ़ जाती है
जब ये दिल तुम्हारे दीदार की ज़िद करता है..!!

तेरी याद के सहारे ही तो ईश्क जिंदा है
मर जाते तड़प क़े गर याद साथ न होती..!

जानते हो ज़िन्दगी में सबसे बड़ा दुःख काया है
जब पता न हो कि इंतज़ार करना है या भूल जाना है.

Jante Ho Zindagi Me Sabse Bda Dukh Kaya Hai
Jab Pta Na Ho Ki Intzaar Karna Hai Ya Bhool Jana Hai.

अगर अच्छे से फेसबुक का इस्तेमाल करना चाहते हो
तो पहले अपने सब रिश्तेदार को ब्लाक कर दो.

Agar Acche Se Fecbook Ka Estemaal Karna Chahte Ho
To Pahle Apne Sab Rishtedaar Ko Block Kar Do.

तुम को चाहने की वजह कुछ भी नहीं
बस इश्क़ की फितरत है बेवजह होना.

Tum Ko Chahne Ki Wjah Kuch Bhi Nhi
Bas Ishq Ki Fitrat Hai Bewjah Hona.

Sachi Mohabbat Shayari

Sachi Mohabbat Shayari

हम तड़प रहे है याद में तेरी देखो कैसी जुदायी है,
हर पल अब मै रब से पूछू कैसी दुनिया बनायी है!!

वो भी तड़प ना जाये तो इस “इश्क़” पे लानत
बस मुझसे एक बार निग़ाह मिलाने की देर है.!!

सोये हुए थे सुकून से अचानक तड़प उठे
यूँ आकर तेरे ख्याल ने अच्छा नहीं किया..!!

वो मुझे भूल ही गया होगा,
इतनी मुद्दत कोई खफा नहीं रहता।

तेरे हर सवाल पर यू ही नही में खामोश हो जाता हूँ,
हुस्न -ऐ -अदा तेरी देख में हर लफ्ज़ भूल जाता हूँ

Woh Mujhe Bhul Hi Gaya Hoga,
Itni Muddat Koyi Khafa Nahi Rahta.

तुम नज़र आते हो हर जाम में बस इसलिए पी जाते है,
और लोग हमे नशे का आदि कहते है

यूँ बार बार ना करा करो सवाल सनम,
मोहब्बत तुमसे बेहिसाब है लफ्जों में बयान नही होगी.

अच्छा लगता है हर रात तेरे ख्यालो में खो जाना,
जैसे दूर हो कर भी तेरी बाँहों में सो जाना..!!

Yahaan Sab Khamosh Hain Koi Aawaaz Nahin Karta,
Sach Bolkar Koi, Kisi Ko Naraaz Nahin Karta.

इश्क मोहब्बत की शायरी

इश्क मोहब्बत की शायरी

काश तुझे सर्दी के मौसम मे लगे मोहब्बत
की ठंड और तु तड़प के मांगे मुझे कंबल की तरह..!!

मुझे पता #नहीं की ये इश्क है या #नादानी,
बस हर पल तेरे # बारे में सोचना ही अच्छा #लगता है हमें।😍😍

😍तुम्हारे ख्वाबों भी #एक खुशबु की तरह है,
एक बार आ #जाए, तो पूरा दिन मेरे #दिल मे रहता है।😍😍

बेहद सर्दी भी गर्मी सी लगने लगती है,
जब निगाहे तेरी मेरी निगाहो से मिलने लगती है..

तेरी यादो में खोते ऐसे है की सारी कायनात हमसे खफा हो जाती है,
इतनी मोहब्बत ना जाने… कब शाम से सुबह हो जाती है.

अब ना अदब ना लिहाज़ में यह ज़िन्दगी गुजार पाएंगे,
अगर मिले तेरा साथ तो ही लगता है साँसों को और चला पाएंगे.

उसके होठ किसी किताब में लिखी खूबसूरत तहरीर से कम नही,
ऊँगली रखो तो पढते चले जाने का जी चाहता है.

शौक-ऐ-नजर की खातिर चाहा था बस देखना,
बेहद ही मासूम थे वो मासूमियत से दिल में उतर गए.

आँखों से आँखे मिला मदहोश हो गये,
हम हमारे न रह कर उसी के हो गये.

तेरी अदाओं ने ना जाने कैसे बंधा है मुझको,
तू जहा भी जाती है तेरे पीछे चले आने को जी चाहता है.

कमाल की झलक थी जो क़यामत ढहा गई,
वो जाती जाती मुझको मुझी से चुरा गई.

हम ने रोती हुई आँखों को हँसाया है सदा,
इस से बेहतर इबादत तो नहीं होगी हमसे।

Kaun Kaisa Hai Ye Hi Fikr Rahi Tamaam Umr,
Ham Kaise Hain Ye Kabhi Bhool Kar Bhi Nahi Socha.

कौन कैसा है ये ही फ़िक्र रही तमाम उम्र,
हम कैसे हैं ये कभी भूल कर भी नही सोचा।

Seekh Nahin Pa Raha Hun Meethe Jhooth Bolane Ka Hunar,
Kadave Sach Se Hamse Na Jane Kitne Log Rooth Gaye.

सीख नहीं पा रहा हूँ मीठे झूठ बोलने का हुनर,
कड़वे सच से हमसे न जाने कितने लोग रूठ गये।

यहाँ सब खामोश हैं कोई आवाज़ नहीं करता,
सच बोलकर कोई, किसी को नाराज़ नहीं करता।

Ishq Shayari in Hindi Lines

Ishq Shayari in Hindi Lines

😎काश मैं #लौट जाऊँ बचपन की #उन गलियों में…
जहां ना #कोई ज़रूरत थी ना #कोई ज़रूरी था.😎😎

जीत हासिल #करनी हो तो काबिलियत #बढाओ,
किस्मत की #रोटी तो कुत्तों को भी नसीब हो जाती है…!!😍

उदास छोड़ गयीं वो मुझको,
जिसके मुस्कराने😊 पर मैं खिल उठता था।

Zaaya Na Kar Apne Alfaz Kisi Ke Liye,
Khamosh Rah Kar Dekh Tujhe Samjhta Kaun Hai.

ज़ाया ना कर अपने अल्फाज किसी के लिए,
खामोश रह कर देख तुझे समझता कौन है।

Hajaron Log Shareek They Janaze Mein Uske,
Tanhayiyon Ke Khauf Se Jo Shakhs Mar Gaya.

हजारों लोग शरीक हुए थे जनाज़े में उसके,
तन्हाइयों के खौफ से जो शख्स मर गया।

Hairan Hoon Ibaadat Mein Jhuka Sar Dekh Kar,
Aisa Bhi Kya Hua Jo Khuda Yaad Aa Gaya.

हैरान हूँ तेरा इबादत में झुका सर देखकर,
ऐसा भी क्या हुआ जो खुदा याद आ गया।

उसने जी भर के मुझको चाहा था,
फ़िर हुआ यूँ के उसका जी भर गया।

Tamanna Yehi Hai Bas Ek Baar Aaye,
Chaahe Maut Aaye Chaahe Yaar Aaye.

वजह नही चाहिये मुझे.. तुझे सोचने की
तू तो वो ख्याल है मुझमे से कभी जाता ही नही..!!

Hamne Roti Huyi Aankhon Ko Hasaya Hai Sada,
Is Se Behtar Ibadat To Nahin Hogi Hamse.

तमन्ना यही है बस एक बार आये,
चाहे मौत आये… चाहे यार आये।

अंगड़ाईया लेते लेते ही रुक जाते है ये,
कमाल करते है सुबह सुबह ही मुझमे खो जाते है ये..!!

मेरी तो रातो की नींद ले गया,
वो तेरा ख़ामोशी से चले जाना ना जाने क्या क्या कहे गया.

Uss Ne Jee Bhar Ke Mujhko Chaha Tha,
Phir Hua Yun Ke Uska Jee Bhar Gaya.

Hello Guys, आप सब अगर आपको ये Mohabbat Shayari in Hindi अच्छा लगा हो तो प्लीज दोस्तों इस शायरी फोटो को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया (Social Media) में जरूर शेयर करे जैसे की Facebook Group, Instagram, Pinterest और Whatsapp Group और बाकी सोशल मीडिया platforms पर  जरूर शेयर करे। आप हमे Instagram पर भी Follow करे!

Back to top button